There was an error in this gadget

Wednesday, 18 July 2012

 अपने इस ब्लॉग के माध्यम आप सभी को
बताना चाहूँगा कि बहुत जल्द पूज्य
 डॉ जयशंकर  त्रिपाठी जी की चहेती "करमहा "
अर्थात "करुणावती" नदी  के नाम से पत्रिका 
 निकालने का संकल्प लिया है जिसमे पठनीय
 सामग्रियों की धारा बहेगी ।अपने इस पावन और
पुनीत कार्य में आप सभी का आशीर्वाद चाहूँगा ।
सामग्री एकत्र कर ली है बस छपने के लिए देनी है ।

                                                              आनंद

      

No comments: